चंडीगढ़ के भी विभिन्न स्थानों पर बड़े-बड़े रावण, मेघनाथ और कु6भकरण के पुतलों को जलाकर दशहरा बड़े हर्षोल्लास से मनाया गया

dashehra1

dashehra2

dashehra3

चंडीगढ ०४ अ1टूबर, २०१४: बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतिक कहा जाने वाला दशहरा आज समूचे देश में विजयदशमी के रूप में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। चंडीगढ़ के भी विभिन्न स्थानों पर बड़े-बड़े रावण, मेघनाथ और कु6भकरण के पुतलों को जलाकर दशहरा बड़े हर्षोल्लास से मनाया गया। शहर में हर तरफ लोगों की चहल-पलह थी। आज भी लोग पूरी उत्साह के साथ रावण दहन देखने जाते हैं। सै1टर ४८ की श्री त्रुपति बाला जी सोशल सोसायटी द्वारा भी दशहरा मनाया गया जिसमें भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन मु2य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए। उनके साथ चन्द्रशेखर, राजेश गुप्ता, अमित राणा, दीपक शर्मा, दीपक मल्होत्रा, प्रदीप बंसल, महकवीर सिंह, अमनदीप सिंह इत्यादि मौजूद थे। सोशल सोसायटी के चीफ फेटनर भीमसैन अग्रवान, अध्यक्ष रमेश सिंगला, चैयरमेन विजय प्रभाकर और महासचिव खुशविन्द्र सिंह के अलावा सोशल सोसायटी के सभी सदस्य मौजूद थे।

इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने शहरवासियों को दशहरे की बधाई देते हुए कहा कि आज के दिन भगवान श्री राम जी ने अंहकारी रावण का वध कर लंका पर विजय प्राप्त की थी। इसलिए इसे विजयदशमी भी कहा जाता है। यह बुराई पर अच्छाई की जीत थी 1योंकि बुराई जीतना मर्जी अपना सिर उठा ले एक दिन तो अच्छाई के आगे उसका सिर निचा होता ही है। उन्होंने कहा कि बुराई के प्रतिक लंकापति रावण को मार कर एक बार फिर समाज में यह संदेश फैला दिया है कि बुराई चाहे किसी भी रूप में हमारे समाज में फैली हो अंत सच्चाई के हाथों ही होता है। उन्होंने दशहरा पर्व सबके लिए मंगलमय और खुशियों भरा हो ऐसी प्रार्थना कर एक बार फिर सबको विजयदशमी की बधाई दी साथ ही उन्होंने श्री त्रुपति बाला जी सोशल सोसायटी के प्रत्येक सदस्या की सराहना की जिन्होंने पिछले १० दिन लगातार रात-दिन मेहनत की मंच पर राम की लीला को दर्शाया और हर साल की तरह इस साल भी दशहरा मना कर लोगों को बुराई पर अच्छाई की विजय संदेश दिया।