चंडीगढ़ के रामदरबार में स्थित भगवान विष्णू अवतार बाबा रामदेव जी के मन्दिर में उनके जन्मदिवस पर उनकी मूर्ति की स्थापना की

bjp232

bjp233

चंडीगढ़ २७ अगस्त, २०१४: चंडीगढ़ के रामदरबार में     स्थित भगवान विष्णू अवतार बाबा रामदेव जी के मन्दिर में उनके जन्मदिवस पर उनकी मूर्ति की स्थापना की व कलश यात्रा निकाली गई। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन मु2यातिथि के रूप में उपस्थित थे। उनके साथ प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल, महासचिव प्रेम कौशिक, मंडल प्रधान शीश पाल गर्ग, हाजी मो.खुर्शीद अली, शाम लाल, सतपाल, सुरजीत, बलजिन्द्र सूद, सुनील चौधरी, नत्थू राम, भगवान दास संगम, चांद मियां, दौलत राम, निर्माणकर्ता बंसती देवी, मंदिर के प्रधान कुन्दन, चेयरमैन बाबूराम आदि उपस्थित थे।

इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने कहा कि हमारा भारत देश युगों-युगों से देवताओं व गुरूओं का देश रहा है। इस धरती पर बड़े-बड़े संत, ज्ञानी व बाबा ने जन्म लिया और लोगों में अपना ज्ञान बाटा। उन्होंने कहा कि हमें संतों के बताए हुए मार्ग पर चलकर अपना जीवन सफल बनाना चाहिए। आज भाग-दौड़ वाली जिन्दगी में इंसान के पास समय ही नहीं मिलता कि वह मंदिर जाकर थोड़ी देर भगवान का नाम ले। लेकिन जीवन के आखरी पड़ाव पर हमें इसका अहसास होता है तब तक बहुत देर हो जाती है, समय हाथ से निकल चुका होता है। इसलिए हमें समय को हाथ से न गवाकर और समय रहते भगवान का नाम लेकर अपना जीवन सार्थक करना चाहिए। श्री टंडन ने मंदिर कमेटी व कालोनीवासियों के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि आज देश की महिलायें किसी भी तरह से कमजोर नहीं हैं। हमें महिलाओं का पूरा मान-स6मान करना चाहिए। जिसे देश में नारी का स6मान होता है वह देश सदैव तर1की की राह पर चलता है।

इस अवसर पर उपाध्यक्ष रामलाल ने कहा कि विष्णू अवतार बाबा रामदेव जी के द्वारा किए गए चमत्कारों का बखान किया। उपस्थित भ1तों को उनके बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने बताया कि बाबा रामदेव जी भगवान विष्णू के अवतार हैं। राजस्थान में इनकी बहुत ही मान्यता है। वहां बाबाजी के नाम के मेले लगते हैं। आज के दिन बाबाजी का जन्म हुआ था। इसी उपलक्ष में बाबाजी की मूर्ति की स्थापना की।

इस अवसर पर जिला अध्यक्ष देवी सिंह ने बताया कि पार्टी प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने छोटी कन्याओं को भोजन करवाया। उन्होंने बताया कि बाबा रामदेव की जन्मदिवस के अवसर पर महिलाओं ने कलश यात्रा निकाली जो पूरे रामदरबार में घूमकर वापिस मन्दिर में आकर खत्म हुई। इसके उपरांत भंडारे का आयोजन किया गया। जिसका सभी ने बड़े आनंद से गृहण किया। उन्होनें बताया कि मंदिर प्रधान कुन्दन व उनकी कमेटी के सदस्यों ने संजय टंडन को स्मृति चिन्ह देकर स6मानित किया व उनका आभार प्रकाट किया। इस अवसर पर भारी सं2या में भ1त उपस्थित थे।