DELEGATION MEET SANJAY TANDON

चंडीगढ़ १२ सितंबर, २०१४: अपनी मांगों को लेकर भारत सरकार टै1सट  बूकस प्रैस वर्कर्स एसोसिएशन चंडीगढ़ का प्रतिनिधिमंडल एसोसिएशन के प्रधान भवानी प्रसाद के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी कार्यालय कमलम में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन से मिला तथा उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत करवाया और प्रतिनिधिमंडल ने मांग पत्र प्रदेशाध्यक्ष को सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में मेहर सिंह, भूपिन्द्र सिंह, गुरबचन सिंह, राम बदन, सोहन सिंह, सुभाष चंद, प्रवीण सिंह सहित सैंकड़ों सदस्या शामिल थे।

प्रतिनिधिमंडल ने प्र्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन को अवगत करवाया कि उनके कार्यालय को पुनर्विकास किए जाने का एक आदेश पत्र भारत सरकार से प्राप्त हुआ। अत: इसके चलते कर्मचारियों के मन में डर बना हुआ है कि पिछली बार की सरकार ने भी पुनर्विकास के नाम पर काफी कार्यालयों का विलय कर दिया जिससे कर्मियों को काफी समस्याओं से जुझना पड़ा था। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि चंडीगढ़ में १९७० में पूनेस्को के तहत कार्यालय की स्थापना हुई थी। तब जर्मनी द्वारा मशीनरी उपल4ध कराई गई थी और पंजाब सरकार ने जमीन अलाट की थी। इसके उपरांत वर्ष १९८२ में सरकारी गोपनीय दस्तावेजों की छपाई हेतु मशीनों का नवीनीकरण हुआ था। तब से लेकर अब तक इए विभाग को नजरअंदाज किया गया।

प्रतिनिधिमंडल ने मांग की कि सरकार कर्मचारियों के हितों को देखते हुए चंडीगढ़ में स्थापित प्रैस के नवीनीकरण के प्रति सार्थक कदन उठाए और चंडीगढ़ में स्थापित इस प्रैस में अधिक से अधिक स्थानीय लोगों को रोजगार प्रदान करने के अवसर प्रदान कराए। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि चंडीगढ़ स्थित प्रैस गत कई वर्षों से प्रिंटिंग मामलों में पुरस्कृत भी की जा चुकी है।

प्रतिनिधिमंडल की बात सुनने के पश्चात प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने आश्वासन दिया कि मोदी सरकार सदैव जनता के हितों की वकालत करती है अत: उन्हें विश्वास है कि कर्मचारियों के हितों को अनदेखा नहीं किया जाएगा। साथ ही उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को अवगत करवाया कि उन्होंने शहरी विकास मंत्री श्री वैंकेया नायडू से बातचीत की है और आए हुए प्रतिनिधि को १५ सितंबर को शहरी विकास मंत्री से मुलाकात का समय दिला दिया है ताकि वह अपनी बात उनके समक्ष भी रख सके।