DELEGATION MEET SANJAY TANDON IN KAMLAM

चंडीगढ 02 जुलाई, 2014 :  इम्पलोईज यूनियन आफ एजुकेशन डिपार्टमेंट चंडीगढ़ का प्रतिनिधिमंडल भारतीय जनता पार्टी चंडीगढ़ के टेनेमेंट प्रकोष्ठ के सह-संयोजक एम डी खान की अध्यक्षता में पार्टी कार्यालय कमलम में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन से मिला और ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में इम्पलोईज यूनियन आफ एजुकेशन डिपार्टमेंट के चेयरमैन आर के हमदर्द, अध्यक्ष अशोक कुमार, कानूनी सलाहकार एस के खुर्चा, एस एस कमबोज, उपाध्यक्ष राकेश कुमार व सावित्री देवी, महासचिव संजय कुमार, कोषाध्यक्ष बलकार सिंह शामिल थे। इस अवसर पर प्रदेश महासचिव प्रेम कौशिक, अयोध्या प्रसाद सिंह उपस्थित थे।

    प्रतिनिधिमंडल ने पार्टी प्रदेशाध्यक्ष को अपनी समस्याओं से अवगत करवाते हुए बताया कि वर्ष 2006 से डी सी रेट पर क्लास फोर के 2500 कर्मचारी लगातार अपनी पूरी निष्ठा से चंडीगढ़ शिक्षा विभाग के सभी 108 स्कूलों व कॉलेजों एवं कार्यालयों में अपनी सेवाऐं दे रहे हैं जिसमें चौंकीदार, माली, सिक्योरिटी गार्ड, सफाई कर्मचारी, चपरासी, आया एवं हैल्पर के तौर पर कार्य कर रहे हैं। इन सभी कर्मचारियों को समय-समय पर रैगुलर किया जाए।

चंडीगढ़ के डी पी आई क्लास फोर कर्मचारियों की नई भर्ती बाहर के उम्मीदवार बुलाकर करने जा रहे हैं जोकि गलत है, यह पुराने कर्मचारियों के साथ नाइंसाफी है। उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा की जा रही क्लास फोर कर्मचारियों की नई भर्ती पर तत्काल रोक लगे या जो पहले से शिक्षा विभाग में कार्य कर रहे उन क्लास फोर के कर्मचारियों को ही पक्का किया जाऐ। पंजाब व हरियाणा की तर्ज पर तीन साल की सेवाऐं पूरी कर चुके सभी डी सी रेट कर्मचारियों को रेगुलर किया जाए। चंडीगढ़ के कर्मचारियों पर सर्विस में ज्यादातर पंजाब के रूल लागू होते हैं पंजाब रूल के अन्तर्गत चंडीगढ़ के सभी कच्चे कर्मचारियों को पक्का करते समय पंजाब पैटर्न लागू हो ताकि चंडीगढ़ के उन सभी कर्मचारियों को फायदा मिले, जो भारत सरकार रूल के अनुसार अपनी आयु 18 से 25 वर्ष से ऊपर हो चुके हैं।

मिड-डे मील कर्मचारी के तीन घंटे के कार्य को बढ़ाकर 6 घंटे करवाया जाए, ताकि उनके मानदेय में बढ़ोतरी हो सके। प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि इन सभी समस्याओं से कई बार शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों, डी ई ओ व डी पी आई को अवगत करवाया लेकिन उन्होंने इस समस्याओं पर कोई ध्यान नहीं दिया।

प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने प्रतिनिधिमंडल की सभी मांगों का ध्यानपूर्वक सुना और कहा कि क्लास फार के कर्मचारियों की समस्याओं को चंडीगढ़ प्रशासन के समक्ष रखेंगे और समय रहते इन सभी समस्याओं का समाधान करवाया जाएगा।