श्री अमरनाथ तीर्थ यात्रा

चंडीगढ 19 जुलाई, 2014:  श्री अमरनाथ तीर्थ यात्रा के रास्ते में बालटाल में श्रद्धालूओं की सेवा के लिए लगाऐ गए लंगरों पर कश्मीरी जनता द्वारा हमला कर लंगरों को आग लगाने तथा लंगर संचालकों व तीर्थ यात्रियों से मारपीट तथा तीर्थ यात्रियों की बंसों पर पथराव की घटना की भारतीय जनता पार्टी, चंडीगढ़ प्रदेश ने घोर निंदा की है।

पार्टी प्रदेशाध्यक्ष संजय टंडन ने इसे जम्मू कश्मीर सरकार की लापरवाही बताया है तथा तीर्थ यात्रियों को उमर अब्दुल्ला सरकार द्वारा सुरक्षा देने में नाकाम बताया है। चंडीगढ़ के गौरीशंकर सेवा दल के उपप्रधान रमेश शर्मा निक्कू द्वारा जिनकी संस्था ने बालटाल में तीर्थ यात्रियों के लिए लंगर लगाया हुआ है, उनके द्वारा सूचना देने पर कि स्थानीय लोगों द्वारा तीर्थ यात्रियों व लंगर आयोजकों के साथ मार-पीट व बंसों को आग लगाई जा रही है।

सूचना मिलते तुरंत ही केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री श्री किरण रिज्जू के कार्यालय में फोन पर घटना की सूचना दी। तथा प्रदेश महासचिव चन्द्रशेखर ने पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव श्री जगत प्रकाश नड्डा के ध्यान में सारा मामला लाया। इस सारे मामले का तुरंत संज्ञान लेते हुए सरकार व पार्टी के केन्द्रीय संगठन ने जम्मू-कश्मीर के गर्वनर से बात कर सारी स्थिति को संभालने के आदेश दिए। उसके पश्चात ही तुरंत घटना स्थल पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई तथा यात्रा को भी कुछ दिनों के लिए स्थिति शांत होने तक रोक दिया गया है।